Dil Ki Sun

मेरे साथ बिताये लम्हे के हर पल को संजोग के रखना ऐ मेरे दोस्त क्योकि हम याद तो तुम्हे बहुत आयेंगे पर लौट के नहीं । Love U NESARK

Friday, 30 September 2016

Yaad me Jeena



Har din ke har ek pal me,
          Mai yaad tumhi ko karta hun.
Mai pyaar tumhi se krta hun,
          Tere naam se jeeta marta hun.
Tu jab se mujhko chhor gayi ,
          Tera intzaar hi karta hun.
Jab yaad tumhari aati h,
          Mujhko har pal ye satati h.
Tu laut ke jab bhi aayegi,
          Mujhko gale lagayegi.
Mai har din har pal sote jagte,
          Yaad tumhi ko karta hun.
Tu laut ke ek din aayegi ,
          Is ummeed se jeeta marta hun.
Wo tera chhupakar mujhse milna,
          Yaad bahut hi aata h.
Itna mujhe satata h,
          Bechain bahut kar jata h.
Tum jab bhi nind me ayegi,
          Mai teri nind me kahuga.
Tere mithe sapno me,
          Mai har pal tum ko chhoo lunga..

                         *****
हर दिन के हर इक पल में,
          मैं याद तुम्हीं को करता हूं।
मैंं प्यार तुम्हीं से करता हूं,
          तेरे नाम से जीता मरता हूं।
तू जब से मुझको छोड़ गई,
          तेरा इंतजार ही करता हूं।
जब याद तुम्हारी आती है,
          मुझको हर पल ये सताती है।
तू लौट के जब भी आएगी,
          मुझको गले लगायेगी।
मैं हर दिन हर पल सोते-जागते,
          याद तुम्हीं को करता हूं।
तू लौट के इक दिन आएगी,
          इस उम्मीद से जीता-मरता हूं।
वो तेरा छुपकर मुझसे मिलना,
          याद बहुत ही आता है।
इतना मुझे सताता है,
          बेचैन बहुत कर जाता है।
तुम जब भी नींद में सोयेगी,
          मैं तेरी नींद में जागूंगा।
तेरे मीठे सपनो में ,
          मैं हर पल तुमको छूं लूंगा।।

11/01/2015 (7:25 pm)

Universal Truth

1.Mujhe ajmane wale shakhs tera
shukriya,
meri kabiliyat nikhri h teri hr ajmaish k bad....!!

2. ek DOST wo hota h jo puri zindagi sath nivaye,
r ek DOST wo jo chand lamho m puri zindagi de jaye...!!

3. Teri DOSTI  k deewane h isliye hath faila diya e DOST,
Wrna hm to khud ki zindagi k liye v dua nhi krte...!!

4. M nhi kehta ki meri khabar pucho DOST,
Khud kis haal m ho bs itna bta dia kro...!!

5. Nivana na ho to riste bnao hi mt,
aap k tim pas k chakkar m koi tut jata h...!!

6. Hm nhi jante ki risto m bewafai q milti h,
bs itna jante h jb dil bhar jata h chhor jate h log...!

KUCH TO BAAT HOGI



Itne yakin s to hm nhi keh skte ki hm aap ko yad rakh payenge.. Pr itna waada jrur kr skte h ki zindagi m aap ko kvi bhul nhi payenge...

Aankho k ishare smjh nhi pate, Hoto s dil ki bat keh nhi pate, Apni bewasi hm kis trh kahe, Koi to h jis k bina hm reh nhi pate...

Aapki dosti m khud ko mahfuj mante h hm, Dosto m aapko sb s aziz mante h hm, Aap ki dosti k saye m jinda h, Aapko khuda ka dia hua tabiz mante h hm...

Jo jitna dur hota h nazro s, Utna hi wo dil k pas hota h, Muskil s v jiski 1 jhalak dekhne ko na mile, Wo hi zindagi m sb s khas hota h...

Reality of Life


When you give importance to people , they
think that you are always free. But theh don't
understand that you make yourself available for
them everytime...
                               *****
Single hoke raat ko chup chap music player on
karke so jaana is much better than relationship
me hoke der raat tak unka wait karna jise
Tumhari kuch Parwah Hi Nahi..��

Monday, 26 September 2016

Special dedication for sum 1 in her B-DAY in "AEC"

Khuda ne bahut muskil ghari m ek chand k tukde ko banaya hoga,
Is hasin tukde ko pariyon ne khud mil ke sajaya hoga,

Chand taaron ne mil kr ki hogi dua use usi duniya m reh jaane ki,
Par kuch to use hmari dosti ka khayal aaya hoga,

Bhagwan khud use is jahan m laye honge,
Uske maa-bap ko use hmesha khush rakhne ko keh aye honge,

Jis din wo is duniya m apni aankhe kholi hogi,
Khud to bahut royi hogi mgr har kisi k chehre par hasi layi hogi,

Uske maa-bap n bahut hi muskan layi hogi,
Jb is hasin pari ko "........." k naam m sajayi hogi,

Khuda k har ikraar ko wo aaj tak sunti aayi hogi,
Use kya pta wo meri dosti ki khatir hi "AEC" ayi hogi,

Ab tk wo har saal apna B-day kuch to alg trh s manayi hogi,
Par use ye na pta hoga ki is saal use ye lines special gift ki jayegi,

Har saal tujhe teri khud ki pukar hogi,
Na rukna kavi na jhukna kvi ye tumhari manji ki pukar hogi,

Is s zada mujhe meri dosti m kya kehni hogi,
Ab kuch to tum v bol do
Kya apni dosti ko zindagi bhar k liye ek dor m bandhani hogi.......

Tuesday, 13 September 2016

Zindagi k liye


                             *****
Jruri nhi hr chahat ka mtlb "ISHQ" ho,
Kvi-kvi kuch anjan riste k liye v dil bechain ho jata h.


जरूरी नही कि हर चाहत का मतलब "इश्क " हो,
कभी-कभी कुछ अंजान रिश्तों के लिए भी दिल बेचैन
हो जाता है। 

                             *****
In lamho ki yaadon ko sambhal k rakhna,
q ki hm yaad to tumhe bahut aayenge pr
 laut k nhi.....


इन लम्हों की यादों को संभाल के रखना,
हम याद तो बहुत आएंगे पर लौट के नही। 


                            *****
Ye soch kr mai chadha uchaiyo ko, ki tum 
shayad yaha_shayad yaha ya shayad yaha ho, mgr na jane tum ab tk kaha ho..


ये सोच कर चढा मैं उँचाइयों को , कि तुम शायद यहां -शायद यहां या शायद यहां हो मगर ना जाने तुम अब तक कहां हो। 


                           *****
Kisi insan k chale jane s duniya khatm nahi ho jati.


किसी इंसान के चले जाने से दुनियाँ खत्म नही हो जाती। 


                           *****
Yadi zindagi k safar m dur tk jana h aur badi manjil ko pana h to kisi ka intzaar mt kro.


यदि जिंदगी के सफर में दूर तक जाना है और बङी मंजिल को पाना है तो किसी का इंतजार मत करो। 


                           *****
Zindagi m kuch baate bhul jana mn aur dil dono k liye acha hota h.


जिंदगी में कुछ बाते भूल जाना मन और दिल दोनो के लिए अच्छा होता है। 



                           *****
Waqt dost aur riste wo chiz h jo hme muft m milti h. Lekin inki kimat ka pta tb chlta h jb ye kahi kho jata h.


वक्त दोस्त और रिश्ते वो चीजें हैं जो हमें मुफ्त में मिलती हैं, लेकिन इनकी कीमत का पता तब चलता है जब ये कहीं खो जाता है। 



                           *****
1 minute m zindagi nhi badalti pr 1 minute soch kr liya gya faishla zindagi badal deta h.


1 मिनट में जिन्दगी नही बदलती पर 1 मिनट सोच कर लिया गया फैसला जिन्दगी बदल देता है।


Monday, 12 September 2016

Motivational Shayari


Har manjil asan ho jayegi,
Jb tumhe apne ap se pehchan ho jayegi,
Khuda khud tumhe rasta dikhayenge,
Jb tere raaho me muskil dikhayi degi,
Tut jayenge wo kante v jo teri raaho me ayenge,
Ruk jayega wo dariya Jb v muskuraoge,
Apni zindagi ki mehfil ko,
Yu hi mat gawa dena,
Bahut takleef uthaye hn Mummy-Papa n,
Unhe zindagi me hmesha khushiya hi khushiya dilana......




Zindagi me kabhi udas mat hona,
Kabhi kisi bat par nirash mat hona,
Zindagi ek sangharsh h ye chalti rahegi,
Kabhi apne jine ka andaz mt khona..




Sitaaro me akela chand jagmagata h,
Mushkilo me akela inshan jagmagata h,
Kanto se mat ghabrana ae mere dost,
Kanto me hi akela gulab muskurata h....




Sham suraj ko dhalna sikhati h,
Shama parwaano ko jalna sikhati h,
Girne waalo ko takleef to hoti h, par
Thokar hi insan ko chalna sikhati h.....




Shangharsh me insan akela hota h,
Safalta me duniya uske sath hoti h,
Jab-jab duniya us par hasha h,
Tab-tab usi ne itihaas racha h.......




Manjil ki taraf badhte chalo,
Jo dil kahe us raah pe chalo,
Pichhe walo ko age mat jane do,
Jo age h us se age chalo,
To tum ek achha insan ban sakte ho......




Jo safar ki shuruaat krte hn,
Wo manjil ko paa hi lete hn,
Bas kadam badhane ka haushala rakhiye,
Achhe logo ka to manjil v intzaar krti h.......




Behtar se behtar ki talash kro,
Mil jaye nadi to samundar ki talash kro,
Tut jata h shisha har pattar ki chot se,
Tut jaye pattar aisa shisha talash kro........




Anshu na hote to ankhe itni khubsurat na hoti,
Dard na hota khushi ki itni kimat na hoti,
Agr mangne se mil jata sb kuchh, to
Khuda ki itni jrurat na hoti.........




Chhu le aasma ko jami ki talash na kar,
Ji le zindagi tu khushu ki talash na kar,
Waqt be waqt muskurana sikh le,
Wajah ki talash na kar.........

Shayari Collections



  याद आती है तो जरा खो जाते है ,
                    आँसू आँखों में उतर आए तो जरा रो जाते है ,
   नींद तो आती नहीं आँखों में ,
                  लेकिन आप ख्वाबों में आओगे ये सोच के सो जाते है।





     आज कितने दिनों बाद हुई यह बरसात है ,
                    याद दिलाती यह आपकी हर बात है ,
       मुझे मालूम है आपकी आँखों में है नींद ,
                     आप चैन से सो जाओ कितनी हसीन रात है। ... 




लम्हे ये सुहाने हो ना हो ,
                     कल में आज जैसी बात हो ना हो ,
      आपका प्यार हमेशा इस दिल में रहेगा ,
                     चाहे पूरी उम्र मुलाकात हो ना हो। ..... 




 जिंदगी वो जो आपकी पनाहो में गुजर जाए 
                      रात जो आपकी बांहो में गुजर जाये 
  जी चाहता है की इस कदर प्यार करू आपको 
                      की आपकी रूह मेरी सांसो में उतर आये। ...   





खुदा हर नजर से बचाये आपको 
                        चाँद सितारों से जयादा सजाए आपको 
   दुःख क्या होता है ये कभी पता न चले 
                           खुदा जिंदगी भर हसाये आपको। ....... 




लम्हें ये सुहाने साथ हो न हो 
                           कल में आज जैसी बात हो न हो 
   आपका प्यार हमेशा इस दिल में रहेगा 
                           चाहे पूरी उम्र मुलाकात हो न हो। ..... 




इश्क़ वाले आँखों की बात समझ लेते है 
                          सपनो में मिल जाये तो मुलाकात समझ लेते है 
  रोता तो आसमान भी है अपने बिछड़े प्यार के लिए 
                                     पर लोग उसे बरसात समझ लेते है। .....




उनसे रोज मिलने को दिल चाहता है 
                         कुछ सुनाने और सुनने को दिल चाहता है
था किसी के मनाने का अंदाज़ ऐसा की 
                        एक बार रूठ जाने को दिल चाहता है.... ..... 




तरस गए आपके दीदार को 
                           फिर भी दिल आप ही को याद करता है 
 हमसे खुशनसीब तो आपके घर का आईना है 
                          जो हर रोज़ आपके हुस्न का दीदार करता।........ 



उनकी एक याद बेचैन कर जाती है 
                         हर चीज़ में उनकी सूरत नजर आती है 
  ऐसा हाल किया उन्होंने प्यार में हमारा 
                          की नींद आती है तो आँखे बुरा मान है। .... 





मुश्किलों में जीना नहीं चाहते 
                         दूर तुमसे होकर रहना नहीं चाहते 
  यू तो दोस्त बहुत बने जिंदगी में पर 
                         तुम जैसे दोस्त को खोना नहीं चाहते। ..... 



तुम्हे चाहते है बेइन्तहा पर चाहना नहीं आता 
                        ये कैसी मोहब्बत है की हमें कहना नहीं आता 
 जिंदगी में आ जाओ हमारी जिंदगी बनकर 
                        कि तेरे बिन हमें जिंदा रहना नहीं आता 
 हर पल सिर्फ तुम्हे दुआओ में माँगा है 
                       क्या करें तुम्हारे सिवा कुछ मांगना नहीं आता। ....




तरसती निगाहों ने हर पल तेरा दीदार माँगा 
                       जैसे अमावस ने हर रात चाँद को माँगा 
 रूठ गयी ऊपर वाला भी मुझसे 
                       जब मैंने मेरी हर दुआ में तेरा साथ माँगा। ...




दुनिया की सपनों की ओर हम खोते गए 
                      होश में थे फिर भी मदहोश होते गए 
 न जाने क्या जादू था तुम्हारे चेहरे में 
                     रोका खुद को बहुत फिर भी तुम्हारे होते गए। ..... 




जब जब आपसे मिलने की उम्मीद नजर आई है 
      तो सच कहता हुँ पैरों में जंजीर नजर आई है 
 गिर पड़े आँसू आँखों से और 
                     हर बूँद में आपकी तस्वीर नजर आई है। ....

Thursday, 8 September 2016

हम है देसी


*****
By-Kumar Vishwas
एशिया  के  हम  परिंदे , आसमा  है  हद  हमारी ,
जानते  है  चाँद  सूरज , जिद  हमारी  ज़द  हमारी ,
हम  वही  जिसने  समंदर  की , लहर  पर  बाँध  साधा ,
हम  वही  जिनके  के  लिए  दिन , रात  की  उपजी  न  बाधा,
हम  की  जो  धरती  को  माता , मान  कर  सम्मान  देते ,
हम  की  वो  जो  चलने  से  पहले , मंजिले  पहचान  लेते ,
हम  वही  जो  शून्य  मैं  भी , शून्य  रचते  हैं   निरंतर ,
हम  वही  जो  रौशनी  रखते , है  सबकी  चौखटों   पर ,
उन  उजालो  का  वही , पैगाम  ले  आए  है  हम ,
हम  है  देसी  हम  है  देसी  हम  है  देसी ,
हा  मगर  हर  देश  छाए  है  हम…..

ज़िंदा  रहने  का  असल  अंदाज़ , सिखलाये  है  हमने ,
ज़िंदगी  है  ज़िंदगी  के , बाद  समझाया  है  हमने ,
हमने  बतलाया  की , कुदरत  का  असल  अंदाज़  क्या  है ,
रंग  क्या  है  रूप  क्या  है , महक  क्या  है  स्वाद  क्या  है ,
हमने  दुनिया  मोहबत , का  असर  ज़िंदा  किया  है ,
हमने  नफरत  को  गले  मिल , मिल  के  शर्मिंदा  किया  है ,
इन  तरर्की  के  खुदाओं , ने  तो  घर  को  दर  बनाया ,
इन  पड़े  खली  मकानो , को  हमी  ने  घर  बनाया ,
हम  न  आते  तो  तरक्की , इस  कदर  न  बोल  पाती,
हम  न  आते  तो  ये  दुनिया , खिड़किया  न  खोल  पाती,
है  यसोदा  के  यहाँ पर , देवकी  जाये  है  हम ,
हम  है  देसी  हम  है  देसी  हम  है  देसी ,
हा  मगर  हर  देश  छाए  है  हम ……………

Tuesday, 6 September 2016

Kon Hun mai - kuch khaas nahi


Koi tumse pooche kon hoon main
Tum keh
dena koi khaas
nahi...♥
Ek dost hai kaccha pakka sa
Ek jhooth hai
aadha saccha sa,
Jazbaat ko dhake ek parda bas Ek bahana koi
accha sa,
Jeevan ka aisa saathi hai Jo paas ho kar bhi
pass nahin,
Koi tumse pooche kon hoon main
Tum keh
dena koi khaas
nai...♥
Ek saathi jo ankahin si kuch baatein keh jaata
hai,
Yaadon me jiska ek dhundhla sa chehra hi reh
jaata hai
Yun
toh uske na hone ka Hai Mujhko kuch gham
nahin,
Par kabhi-kabhi aankho se wo ansu ban ke beh
jaata hai
Yun
rehta to mere zehen me hai aankho ko uski
talaash nahi,
Koi tumse pooche kaun hoon main,
Tum keh
dena.....
KOI KHAAS NAHI....!

~
Aaj kal har Shakhs Hume Zindagi kaise jiye ye..
Sikha jata hai..?
Unhe kon Samjhaye..
"Ek KHWAB ADHURA HAI HUMARA"
nai to Humse Behtar Jeena Kise Aata hai..!
!

Jiski dhun per duniya nache


जिसकी धुन पर दुनिया नाचे, दिल ऐसा इकतारा है,
जो हमको भी प्यारा है और, जो तुमको भी प्यारा है.
झूम रही है सारी दुनिया, जबकि हमारे गीतों पर,
तब कहती हो प्यार हुआ है, क्या अहसान तुम्हारा है.
जो धरती से अम्बर जोड़े , उसका नाम मोहब्बत है ,
जो शीशे से पत्थर तोड़े , उसका नाम मोहब्बत है ,
कतरा कतरा सागर तक तो ,जाती है हर उम्र मगर ,
बहता दरिया वापस मोड़े , उसका नाम मोहब्बत है .
पनाहों में जो आया हो, तो उस पर वार क्या करना ?
जो दिल हारा हुआ हो, उस पे फिर अधिकार क्या करना ?
मुहब्बत का मज़ा तो डूबने की कशमकश में हैं,
जो हो मालूम गहराई, तो दरिया पार क्या करना ? 
बस्ती बस्ती घोर उदासी पर्वत पर्वत खालीपन,
मन हीरा बेमोल बिक गया घिस घिस रीता तनचंदन,
इस धरती से उस अम्बर तक दो ही चीज़ गज़ब की है,
एक तो तेरा भोलापन है एक मेरा दीवानापन.
तुम्हारे पास हूँ लेकिन जो दूरी है समझता हूँ,
तुम्हारे बिन मेरी हस्ती अधूरी है समझता हूँ,
तुम्हे मै भूल जाऊँगा ये मुमकिन है नही लेकिन,
तुम्ही को भूलना सबसे ज़रूरी है समझता हूँ
बहुत बिखरा बहुत टूटा थपेड़े सह नहीं पाया,
हवाओं के इशारों पर मगर मैं बह नहीं पाया,
अधूरा अनसुना ही रह गया यूं प्यार का किस्सा,
कभी तुम सुन नहीं पायी, कभी मैं कह नहीं पाया !

Tumhari chat pe nigrani bahut h


तुम्हें जीने में आसानी बहुत है
तुम्हारे ख़ून में पानी बहुत है

ज़हर-सूली ने गाली-गोलियों ने 
हमारी जात पहचानी बहुत है

कबूतर इश्क का उतरे तो कैसे 
तुम्हारी छत पे निगरानी बहुत है

इरादा कर लिया गर ख़ुदकुशी का 
तो खुद की आखँ का पानी बहुत है

तुम्हारे दिल की मनमानी मेरी जाँ
हमारे दिल ने भी मानी बहुत है

Swarg kr dwar tak


मैं तुम्हें ढूंढने स्वर्ग के द्वार तक
रोज़ जाता रहा, रोज़ आता रहा
तुम ग़ज़ल बन गईं, गीत में ढल गईं
मंच से मैं तुम्हें गुनगुनाता रहा

ज़िन्दगी के सभी रास्ते एक थे
सबकी मंज़िल तुम्हारे चयन तक रही
अप्रकाशित रहे पीर के उपनिषद्
मन की गोपन कथाएँ नयन तक रहीं
प्राण के पृष्ठ पर प्रीति की अल्पना
तुम मिटाती रहीं मैं बनाता रहा

एक ख़ामोश हलचल बनी ज़िन्दगी
गहरा ठहरा हुआ जल बनी ज़िन्दगी
तुम बिना जैसे महलों मे बीता हुआ
उर्मिला का कोई पल बनी ज़िन्दगी
दृष्टि आकाश में आस का इक दीया
तुम बुझाती रहीं, मैं जलाता रहा

तुम चली तो गईं, मन अकेला हुआ
सारी यादों का पुरज़ोर मेला हुआ
जब भी लौटीं नई ख़ुश्बुओं में सजीं
मन भी बेला हुआ, तन भी बेला हुआ
ख़ुद के आघात पर, व्यर्थ की बात पर
रूठतीं तुम रहीं मैं मनाता रहा

Hoto per GANGA ho


दौलत ना अता करना मौला, शोहरत ना अता करना मौला
बस इतना अता करना चाहे जन्नत ना अता करना मौला
शम्मा-ए-वतन की लौ पर जब कुर्बान पतंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो

बस एक सदा ही सुनें सदा बर्फ़ीली मस्त हवाओं में
बस एक दुआ ही उठे सदा जलते-तपते सेहराओं में
जीते-जी इसका मान रखें
मर कर मर्यादा याद रहे
हम रहें कभी ना रहें मगर
इसकी सज-धज आबाद रहे
जन-मन में उच्छल देश प्रेम का जलधि तरंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो

गीता का ज्ञान सुने ना सुनें, इस धरती का यशगान सुनें
हम सबद-कीर्तन सुन ना सकें भारत मां का जयगान सुनें
परवरदिगार,मैं तेरे द्वार
पर ले पुकार ये आया हूं
चाहे अज़ान ना सुनें कान
पर जय-जय हिन्दुस्तान सुनें
जन-मन में उच्छल देश प्रेम का जलधि तरंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो
होठों पर गंगा हो, हाथों में तिरंगा हो

Koi deewana kehta h


कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है !
मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है !!
मैं तुझसे दूर कैसा हूँ , तू मुझसे दूर कैसी है !
ये तेरा दिल समझता है या मेरा दिल समझता है !!

मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है !
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है !!
यहाँ सब लोग कहते हैं, मेरी आंखों में आँसू हैं !
जो तू समझे तो मोती है, जो ना समझे तो पानी है !!

समंदर पीर का अन्दर है, लेकिन रो नही सकता !
यह आँसू प्यार का मोती है, इसको खो नही सकता !!
मेरी चाहत को दुल्हन तू बना लेना, मगर सुन ले !
जो मेरा हो नही पाया, वो तेरा हो नही सकता !!

भ्रमर कोई कुमुदुनी पर मचल बैठा तो हंगामा!
हमारे दिल में कोई ख्वाब पल बैठा तो हंगामा!!
अभी तक डूब कर सुनते थे सब किस्सा मोहब्बत का!
मैं किस्से को हकीक़त में बदल बैठा तो हंगामा!!

Most Popular

NESARK

Comment Me

Name

Email *

Message *